Home बिज़नेस रिकॉर्ड गिरावट के बाद संभला रुपया

रिकॉर्ड गिरावट के बाद संभला रुपया

0 second read
0
0
56

नई दिल्ली। ऐतिहासिक गिरावट के बाद शुक्रवार को डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया थोड़ा मजबूत हुआ है। गुरुवार के ऐतिहासिक निम्नतम स्तर के बाद आज डॉलर के मुकाबले रुपया 18 पैसे चढ़कर 68.61 के स्तर पर खुला है। रुपये में तेजी का कारण बैंकों और निर्यातकों की ओर से अमेरिकी मुद्रा की हालिया बिकवाली है। इसका एक कारण कमजोर वैश्विक संकेत और महंगाई को लेकर चिंता भी है।वहीं फॉरेक्स डीलर्स का मानना है कि बैंकों और निर्यातकों की ओर से डॉलर की बिकवाली से अन्य देश की मुद्राओं की तुलना में ग्रीनबैक (डॉलर) में कमजोरी देखने को मिली है। इससे रुपये को बल मिला है।

शुक्रवार यानि आज कारोबर में भारतीय शेयर बाजार की मजबूत शुरुआत से भी रुपये को समर्थन मिला है। माना जा रहा है जियो पॉलिटिकल तनाव के चलते आने वाले दिनों में भारतीय रुपये में उतार-चढ़ाव जारी रह सकता है। रुपये का कमजोर होना कई मायनों में देश के लिए फायदेमंद भी है। रुपये की कमजोरी यानी डॉलर के मजबूत होने से आईटी और फॉर्मा के साथ ऑटोमोबाइल सेक्टर को फायदा होता है। इन सेक्टर से जुड़ी कंपनियों की ज्यादा कमाई एक्सपोर्ट बेस्ड होती है। ऐसे में डॉलर की मजबूती से टीसीएस, इंफोसिस और विप्रो जैसी आईटी कंपनियों को फायदा होता है। वहीं डॉलर की मजबूती से ओएनजीसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज, ऑयल इंडिया लिमिटेड जैसी कंपनियों को भी फायदा होता है क्योंकि ये डॉलर में फ्यूल बेचती हैं।

Load More Related Articles
Load More By fmnews
Load More In बिज़नेस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

आज देशभर में चिल्ड्रेंस डे यानी बाल दिवस मनाया जा रहा है

देश के इतिहास में 14 नवंबर की तारीख स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के ज…